यू डोंट लव मेख्

कितनी बार कहा इ लगाओ लव के पहले । तुमने नहीं लगाया। क्या प्यार करोगी तुम मेख्। मुझे पता है तुम क्योँ विजिट करती हो मुझे । पर अफ़सोस ।

तुमने मुझसे झूट कहा । हर वादे जो भी किये सारे झूट  थे । बुनियाद ही गलत था । मुझे किसी को कुछ साबित नहीं करना है । मेरा प्यार सच्चा था और है तब ही मैं आज भी तुम्हारी राह देख रहा हूँ। मुझे पता है सुब कुछ पर चुप हूँ ।

सुच से तुम बोहोत दूर हो। काश मेरे को समझ सकती।

तुम्हारा हमेशा ।।

नैलमेख।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s